वर्दी हुई दागदार, सायबर सेल का हेडकांस्टेबल रिश्वत लेते गिरफ्तार,जुएं का अड्डा चलाने के लिए 10  हजार की बंदी मांग रहा था प्रवीण,लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथों पकड़ा

वर्दी हुई दागदार, सायबर सेल का हेडकांस्टेबल रिश्वत लेते गिरफ्तार,जुएं का अड्डा चलाने के लिए 10 हजार की बंदी मांग रहा था प्रवीण,लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथों पकड़ा

  26 Jun 2022

सिटी चैनल न्यूज नेटवर्क

उज्जैन। जुए का अड्डा चलाने के एवज में साइबर सेल में पदस्थ के प्रधान आरक्षक को लोकायुक्त पुलिस ने 10 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार लिया है। रविवार की दोपहर लोकायुक्त की टीम ने शास्त्री नगर से उसे गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किए गए प्रधान आरक्षक नाम प्रवीण चौहान है जो साइबर सेल में पदस्थ है।

लोकायुक्त पुलिस के मुताबिक शास्त्री नगर में रहने वाले देवेश अष्ठाना नामक व्यक्ति ने लोकायुक्त शिकायत की थी कि सायबर सेल में पदस्थ प्रधान आरक्षक प्रवीण चौहान जुए का अड्डा चलाने के एवज में उससे ₹10 हजार की रिश्वत की हर महीने की बंदी मांग रहा है। रिश्वत नहीं देने पर वह उसे किसी दूसरे झूठे केस में फंसाने के लिए धमका रहा है। शिकायत मिलने पर लोकायुक्त की टीम ने जांच की तो शिकायत सही पाई पाई गई ऐसे में लोकायुक्त की टीम में रविवार की दोपहर ट्रेप प्लान किया और निरीक्षक बसंत श्रीवास्तव की अगवाई में आवेदक को लगातार रिश्वत के लिए धमका रहे साइबर सेल में पदस्थ आरक्षक प्रवीण चौहान को 10000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। यहां आपको बता दें कि प्रवीण चौहान पूर्व में चिमनगंज मंडी और नीललंगा थाने में पदस्थ के दौरान भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी के मामलों में कई बार शिकायतें आ चुकी है लेकिन वह अभी तक बचता आ रहा था। आज दोपहर लोकायुक्त की टीम ने उसे रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

 

 1,261 total views

Share