दमदमा में भी दरकने लगी है कांग्रेस की दीवार, वशिष्ठ परिवार छोड़ रहा है कांग्रेस का हाथ

दमदमा में भी दरकने लगी है कांग्रेस की दीवार, वशिष्ठ परिवार छोड़ रहा है कांग्रेस का हाथ

  23 Jun 2022

दमदमा में भी दरकने लगी है कांग्रेस की दीवार
■ वशिष्ठ परिवार छोड़ रहा है कांग्रेस का हाथ
■पूर्व विधायक और दिग्गज कांग्रेसी महावीर प्रसाद वशिष्ठ के भाई ने छोड़ी कांग्रेस
■बीजेपी का थामा दामन
■तमाम परिजन और परिचित भी हुए बीजेपी में शामिल

■ वीवीएस सेंगर

उज्जैन।  उज्जैन में कांग्रेस का बट वृक्ष माने जाने वाले दमदमा स्थित वशिष्ठ परिवार का भी कांग्रेस से मोहभंग हो गया है। खाटी कांग्रेसी रहा वशिष्ठ परिवार भी अब कांग्रेस का हाथ छोड़ने लगा है। नगर निगम चुनाव से इसकी शुरुआत हो गई है। भले ही हर बार की तरह इस बार भी कांग्रेस ने इस खांटी परिवार की बहू को पार्षद पद का टिकट दिया है पर फिर भी परिवार के अन्य सदस्य कांग्रेस का दामन छोड़ने में लगे हैं

■ city channel को सब्सक्राइब करे और खबर को शेयर करें


गुरुवार को दमदमा स्थित वशिष्ठ परिवार के एक पूरे कुनबे ने कांग्रेस का हाथ छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया। दरअसल पूर्व मुख्यमंत्री के दिग्विजय सिंह के बेहद करीबी माने जाने वाले पूर्व विधयक महावीर प्रसाद वशिष्ठ के भाई गोपाल वशिष्ठ ने कांग्रेस से दूरी बना ली है। गुरुवार को उन्होंने उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव की मौजूदगी में अपने तमाम परिचितों और परिवार के सदस्यों के साथ कांग्रेस को बाय कह दिया और भाजपा का दामन थाम लिया।


बहरहाल दमदमा स्थित दिग्गज कांग्रेसी परिवार के सदस्यों द्वारा कांग्रेस का हाथ छोड़ने के बाद उज्जैन में कांग्रेस का क्या हश्र हो रहा है इसका पता चल रहा है।

 2,440 total views

Share