महाकाल का महा रुद्राभिषेक  ■अच्छी बारिश की कामना को लेकर किया जा रहा है अनुष्ठान ■ 5 दिन तक चलेगा महारुद्राभिषेक  ■ सहस्त्र जलधारा से होगा भगवान महाकाल का अभिषेक

महाकाल का महा रुद्राभिषेक ■अच्छी बारिश की कामना को लेकर किया जा रहा है अनुष्ठान ■ 5 दिन तक चलेगा महारुद्राभिषेक ■ सहस्त्र जलधारा से होगा भगवान महाकाल का अभिषेक

  23 Jun 2022

महाकाल का महा रुद्राभिषेक

■अच्छी बारिश की कामना को लेकर किया जा रहा है अनुष्ठान
■ 5 दिन तक चलेगा महारुद्राभिषेक

■ सहस्त्र जलधारा से होगा भगवान महाकाल का अभिषेक

■ सिटी चैनल न्यूज नेटवर्क

उज्जैन।देशभर में अच्छी बारिश की कामना को लेकर महाकाल मंदिर में महारुद्राभिषेक यज्ञ का श्रीगणेश हो गया है। 5 दिनों तक चले गए चलने वाले इस महारुद्राभिषेक यज्ञ में भगवान वैदिक मंत्रोच्चार के साथ साथ सहस्त्रजलधारा से अभिषेक किया जाएगा। गुरुवार को कलेक्टर आशीष सिंह ने सपत्नीक अच्छी बारिश की कामना को लेकर हो रहे इस यज्ञ में शामिल हुये।


पिछले कुछ सालों से उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में अच्छी बारिश की कामना को लेकर हर साल पर्जन्य अनुष्ठान किया जाता है पर इस बार अच्छी बारिश और लोक कल्याण की भावना को लेकर महा रुद्राभिषेक यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। गुरुवार को महाकाल मंदिर के मुख्य पुजारी पंडित घनश्याम शर्मा के आचार्यत्व में इसकी शुरुआत हो गई।

इस दौरान कलेक्टर आशीष सिंह ने भी सपत्नीक इस महारुद्राभिषेक अनुष्ठान में भाग लिया। पांच दिवसीय इस अनुष्ठान में मंदिर के पुजारी, पुरोहित के साथ ही विद्वान शामिल होंगे।अनुष्ठान के दौरान प्रतिदिन मंदिर पुजारी, पुरोहित और विद्वान पंडित भगवान महाकाल के समक्ष पाठ के साथ महारूद्राभिषेेक करेंगे मान्यता है कि अनुष्ठान करने से प्रसन्न होकर उत्तम बारिश होती है औऱ भगवान महाकाल सुख समृद्धि की कृपा करते है। बीते दो वर्ष से कोरोना संक्रमण के कारण अनुष्ठान नही हुए थे। इस बार मंदिर समिति उत्तम वृष्टि के लिए पांच दिवसीय महारूद्राभिषेक करा रही है। इस अनुष्ठान में होने वाले व्यय का वहन मंदिर समिति द्वारा किया जाएगा। पांच दिवसीय महारूद्राभिषेक अनुष्ठान के दौरान 23 से 27 जून तक दोपहर में गर्भगृह में प्रवेश बंद रहेगा। अनुष्ठान में बैठने वाले पंडितों के लिए इस बार नंदी हाल में बैठकर पाठ करने की व्यवस्था की गई है।

 64 total views

Share