Breaking News
Breaking News
आश्रमों को न बनने दें अपराधियों के अड्डे, सुन्दरधाम आश्रम के पीछे से क्राइम ब्रांच ने पकड़ा जुआ,6 जुआरी पकड़ाये

आश्रमों को न बनने दें अपराधियों के अड्डे, सुन्दरधाम आश्रम के पीछे से क्राइम ब्रांच ने पकड़ा जुआ,6 जुआरी पकड़ाये

  24 Feb 2019

वीवीएस सेंगर

उज्जैन। साधु संतों के आश्रम भी अपराधियों के अड्डे बनते जा रहे जा रहे हैं। चित्रकूट में फिरौती के लिए दो मासूम बच्चों के कत्ल के सनसनीखेज मामले में आरोपियों के एक हिन्दूवादी संगठन और एक आश्रम से जुड़े होने का मामला अभी ताजा ही है कि उज्जैन में भी एक आश्रम जुआरियों और नशेड़ियों का अड्डा के रूप में सामने आ गया। रविवार को उज्जैन क्राइम ब्रांच की टीम ने एडिशनल एसपी प्रमोद सोनकर की अगुवाई में मंगलनाथ मंदिर के समीप स्थित सुन्दरधाम आश्रम पर धावा बोला तो आश्रम के पीछे बड़े पैमाने पर जुआ चलते मिला। क्राइम ब्रांच की टीम ने जब यहाँ घेराबंदी की तो 6 जुआरी मौके से जुआ खेलते पकड़े गए और उनके पास से करीब 82 हजार रुपये बरामद किए गए। एसपी क्राइम ब्रांच प्रमोद सोनकर के मुताबिक पकड़े गए आरोपियों के नाम पुरुषोत्तम पिता तेजराम यादव,सुरेंद्र पिता तेजराम यादव निवासी लालबाई फूलबाई उर्दुपुरा,सुमित पिता विष्णु प्रसाद शर्मा निजातपुरा,अजय पिता कैलाशचंद्र जोशी नामदारपुरा,दिनेश पिता मनोहरलाल शर्मा नागरसेरी उर्दुपुरा, आशीष पिता ज्ञानचंद लोहारिया नयापुरा हैं। आरोपियों के पास से ताशपत्ती सहित 81 हजार 730 रुपये बरामद किए गए हैं। जुआ पकड़ने में सब इंस्पेक्टर संजय यादव,हेड कॉन्स्टेबल कमल सिंह ठाकुर,आरक्षक मंगल टैगोर,रूपेश बिडवान,अंकित चौहान को सराहनीय भूमिका रही। उल्लेखनीय है कि पहले भी कई बार सुन्दरधाम आश्रम का नाम शहर में हुई आपराधिक वारदातों के आरोपियों की लिप्तता से जुड़ता रहा। करीब 10 साल पहले हुए सनसनीखेज बलराम भदौरिया हत्याकांड की वारदात भी आश्रम के बाहर ही अंजाम दी गई थी। ऐसे में जरूरत इस बात की आश्रम संचालक अपने आश्रमों में आने वाले लोगों की गतिविधियों पर नजर रखें और आपराधिक गतिविधियों में लिप्त लोगों की आवाजाही पर पाबंदी लगाएं। नहीं तो किसी दिन उज्जैन के आश्रम भी किसी बड़े आपराधिक कांड की वजह से ‘बद’नाम हो जाएंगे और फिर सभी आश्रम पुलिस के ‘राडार’ पर आ जाएंगे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *