Breaking News
Breaking News
उज्जैन पुलिस को दोहरी सफलता, नकली नोट छापने वाला गिरोह पकड़ाया, वाहन चोरी भी  करते थे

उज्जैन पुलिस को दोहरी सफलता, नकली नोट छापने वाला गिरोह पकड़ाया, वाहन चोरी भी करते थे

  21 Feb 2019

हजारों के नकली नोट और चोरी के 10 वाहन बरामद

■ वीवीएस सेंगर

उज्जैन। लगातार हो रही वाहन चोरी की वारदातों से तंग आ चुकी पुलिस को दोहरी सफलता मिली है। पुलिस ने वाहन चोर गिरोह तो पकड़ा है। खास बात यह है दोपहिया वाहनों की चोरी करने वाले गिरोह के सदस्य नकली नोट भी छापते थे। पुलिस ने आरोपियों के पास से हजारों रुपए के नकली नोट बरामद किये हैं। गुरुवार को पुलिस कप्तान सचिन अतुलकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर नकली नोट छापने और वाहन चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया।

एसपी के मुताबिक लगातार हो रही वाहन चोरी की वारदातों को देखते हुए पुलिस की एक टीम का गठन एडिशनल एसपी अभिजीत रंजन की अगुवाई में किया गया था। जांच में पुलिस टीम को पता चला की धनकुट्टा मोहल्ले में रहने वाला लकी शर्मा अपने दोस्त मयंक श्रीवास्तव के साथ मिलकर नकली नोट छापने और उन्हें मार्केट में चलाने का काम कर रहा है। इस पर पुलिस ने उनकी निगरानी की तो लकी शर्मा अपनी फर्नीचर की दुकान पर अपने दोस्त मयंक श्रीवास्तव और अजय उर्फ तारू के साथ ₹100 के नकली नोट छापते रंगे हाथ पकड़ा गया। उसके पास से हजारों रुपए के नकली नोट, कलर प्रिंटर, इंक सहित अन्य सामग्री बरामद की गई है।

पूछताछ में आरोपियों ने जानकारी दी कि उनके गिरोह के सदस्य वाहन चोरी भी करते हैं इस पर पुलिस ने आरोपियों की धरपकड़ की और उनके चार अन्य साथियों रवि रफ अंडा, पवन उर्फ भूरा,दीपेश उर्फ देव और सचिन को गिरफ्तार किया। आरोपियों के पास से चोरी के कुल दस वाहन बरामद किए गए हैं । जिसमें 8 एक्टिवा, 1 पल्सर बाइक, एक R 15 बाइक है। आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। आरोपी वाहन चुराने के बाद जब तक उसमें पेट्रोल रहता था तब तक घूमते थे और बाद में वाहन को छिपांकर रख देते थे।सभी आरोपियों का आपराधिक रिकॉर्ड है।आरोपियों को गिरफ्तार करने में चिमनगंज मंडी थाना प्रभारी अरविंद सिंह तोमर सहित साइबर टीम की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *